Valentine Day in hindi :वेलेंटाइन डे इन हिंदी:

Valentine Day in hindi  : वेलेंटाइन डे : वेलेंटाइन डे प्यार और आपसी सौहार्द का प्रतीक माना जाता है। इसे अधिकतर पश्चिमी देशो में मनाया जाता है । लेकिन अब ये पूरे विश्व में मनाया जाने वाला दिन  है । यह प्रति वर्ष 14 फरवरी को मनाया जाता है ।

वेलेंटाइन डे की कहानी : तीसरी शताब्दी में रोम में सम्राट क्लोडियस  का शासन था । वह अपने राज्य की अत्यधिक शक्तिशाली बनाना चाहता था । उसका मानना था कि अगर  सैनिक और अधिकारी वर्ग यदि विवाह करेंगे तो उनकी शक्ति और बुद्धि कम हो जायेगी । अतः उसने विवाह पर रोक लगा दिया  । संत वेलेंटाइन एक पादरी थे । उनका मानना था कि विवाह प्यार और  सौहार्द का प्रतीक है । इससे परिवार और समाज बनता है । उन्होंने कई विवाह कराये ।  सम्राट क्लोडियस को जब इसका पता चला तो वह बहुत क्रोधित हुआ । आज्ञा न मानने के आरोप में उसने संत वेलेंटाइन को जेल में डलवा दिया और मौत की सजा का आदेश  दिया । 14 फरवरी 269 ईसवी को संत वेलेंटाइन को फाँसी की सजा दे दी गयी ।उनको वाया फ्लेमिनिया (Via Flaminia) में दफनाया गया ।  इस प्रकार हर वर्ष 14 फरवरी को संत वेलेंटाइन को प्रेम के मसीहा के रूप में याद किया जाता है और यह दिन एक उत्सव के रूप में मनाया जाता है । एक अन्य कहानी का भी उल्लेख मिलता है : संत वेलेंटाइन को जेलर की अंधी बेटी से प्यार हो गया था । अपने अंतिम समय से पहले उन्होंने उसको पहला वेलेंटाइन स्वयं लिखा था । जिसमे उन्होंने ‘From Your  Valentine’ नाम से हस्ताक्षर भी किया । इसके साथ ही जेलर की बेटी  को चमत्कार के द्वारा उसकी आखों की रोशनी भी वापस ला दी थी ।

पूरे सप्ताह का उत्सव : फरवरी महीने के 7 तारीख से ही वेलेंटाइन का उत्सव प्रारम्भ हो जाता है । यह 14 फरवरी वेलेंटाइन डे तक चलता है । पूरे एक सप्ताह वेलेंटाइन वीक के रूप में मनाते है ।

रोज डे (Rose Day) : रोज (Rose) को प्यार का प्रतीक माना गया है । 7 फरवरी को  रोज़ (Rose) के माध्यम से प्यार के रिश्तों को समझा जा सकता है । जहाँ रेड रोज (Red Rose) प्यार का प्रतीक माना जाता है । येलो रोज (Yellow Rose) मित्रता का पिंक (Pink Rose) प्रशंसा का , वाइट रोज ( White Rose) को रिश्तों की शुरूआत सिम्बल माना जाता है ।

प्रपोज़ डे (Propose day) : दूसरा दिन यानि 8 फ़रवरी प्यार करने वालो को मौका देता है कि वे अपने पार्टनर को propose करे । इस दिन अपने मित्र को फ्लॉवर या गिफ्ट देकर अपने मन की बात किया जा सकता है ।

चॉकलेट डे (Chocolate Day) :  9 फरवरी के दिन अपने पार्टनर को चॉकलेट देकर प्यार जताया जा सकता है। ये रिश्तो में मिठास पैदा करने के लिए किया जाता है ।

टैडी डे ( Teddy day) : 10 फ़रवरी को टेडी बेयर गिफ़्ट किया जाता है । यह प्रतीक है छोटे बच्चे का जो हम सबके अंदर छुपा है । टेडी देखते ही चेहरे पर मुस्कान आ जाती है । विशेषकर लड़कियों को ये ज्यादा आकृष्ट करता है ।

प्रॉमिस डे (Promise Day) : 11 फरवरी को प्रेमी और प्रेमिका अपने रिश्तों को पूरी जिम्मेदारियो के साथ निभाने का वादा ( promise) करते है ।

हग डे (Hug day) गले लगाना : 12 फरवरी को एक दूसरे के प्रति प्यार और सुरक्षा की भावना को दर्शाता है । अपने पार्टनर को गले लगा कर प्यार महसूस कराए ।

किस डे (Kiss Day) : 13 फरवरी को किस kiss करके प्यार को व्यक्त करतेे है ।

वेलेंटाइन डे (Valentine Day) : 14 फरवरी को सभी प्यार करने वालो को इंतजार होता है ।  इस दिन अपने पार्टनर  को गिफ्ट और कार्ड के माध्यम से प्यार का इजहार करते है ।

वेलेंटाइन डे का  महत्व  : मौसम की खुमारी और गुलाब की महक उसके साथ अपने हमसफ़र का साथ और उसका प्यार वेलेंटाइन डे को यादगार बना देता है । एक सर्वे के अनुसार, इस दिन लगभग 1 अरब वेलेंटाइन कार्ड की बिक्री होती है । यह क्रिसमस के कार्ड के बाद दूसरे नंबर पर आता है । प्यार करने वाले आपस में गिफ्ट देकर प्यार का इजहार करते है । विशेषकर युवा वर्ग का उत्साह तो देखते ही बनता है । हमारे देश भारत ने अनेक संस्कृतियों और सभ्यताओ को अपनाया है । पश्चिम देशो की ऐसी संस्कृतियों को भी भारत के लोगो ने आत्मसात किया है । फिर जब प्यार और सौहार्द की बात होगी तो हम  क्यों न आगे बढ़कर इसका स्वागत करे । हो सकता है कि इसे अपनाने  का तरीका भिन्न हो । प्यार प्रकृति द्वारा दिया जाने वाला एक ऐसा उपहार है जिसका अहसास रूह तक जाता है । इसमें नफरत और स्वार्थ का कोई स्थान नहीं है । निःस्वार्थ भाव से किया जाने वाला प्रेम आपसी सौहार्द और एकता को बढ़ाता है । व्यक्ति एक दूसरे की ख़ुशी में खुश और दुःखी में दुःख का अनुभव करते है । आज के इस भाग दौड़ की जिंदगी में किसी के पास वक्त ही नही है । नफरत और स्वार्थ में उलझ कर हम अपने परिवार और समाज से दूर होते जा रहे है । निस्वार्थ प्यार के माध्यम से ही इंसानियत और एकता को स्थापित किया जा सकता है । xxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxxx

अपने सुझाव अवश्य  शेयर करे। आपके कमेंट्स मुझे अच्छे लेख लिखने को प्रेरित करते है .

2 comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *